मुख्यमंत्री ने शिक्षक दिवस पर कृषि महाविद्यालय मर्रा के नये भवनों का किया लोकार्पण

मुख्यमंत्री श्री बघेल ने कृषि महाविद्यालय मर्रा के नये भवनों का किया लोकार्पण

 इंस्टाग्राम से जुड़े 

मुख्यमंत्री ने किया गुरूजनों का सम्मान

 फेसबुक से जुड़े 

दुर्ग, 05 सितम्बर 2023/मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल ने आज इंदिरा गांधी कृषि विश्वविद्यालय के अंतर्गत संचालित संत विनोबा भावे कृषि महाविद्यालय एवं अनुसंधान केन्द्र मर्रा (पाटन) के नव निर्मित महाविद्यालय भवन, हाइटेक नर्सरी, टिश्यु कल्चर प्रयोगशाला, इम्प्लीमेंट शेड, बीज भंडार गृह एवं कृषक विश्राम गृह, तीन खाद गोदामों व महाविद्यालय के दो अतिरिक्त कक्ष का लोकार्पण किया। इस अवसर पर गृह, जेल, लोक निर्माण, धार्मिक न्यास, धर्मस्व व पर्यटन मंत्री श्री ताम्रध्वज साहू, पंचायत एवं ग्रामीण विकास तथा स्कूल शिक्षा मंत्री श्री रविन्द्र चौबे भी मौजूद थे। मुख्यमंत्री एवं अन्य अतिथियों ने महाविद्यालय परिसर में लगे कृषि विभाग के प्रदर्शनियों का अवलोकन किया।

संत विनोबा भावे कृषि महाविद्यालय एवं अनुसंधान केन्द्र मर्रा (पाटन) को छत्तीसगढ़ शासन द्वारा लगभग 87 एकड़ भूमि आबंटित की गई है, जिसके अंतर्गत कृषि शिक्षा एवं अनुसंधान हेतु नवीन महाविद्यालय भवन जो कि समस्त शैक्षणिक सुविधाओं से सुसज्जित है एवं 3730 वर्गमीटर में विस्तारित है, जिसकी लागत लगभग 5 करोड़ 25 लाख रूपये है। यहां पर कृषि, शिक्षा एवं अनुसंधान कार्य हेतु स्मार्ट क्लास रूम, सम्मुनत प्रयोगशालाएं, पुस्तकालय, खेलकूद एवं एन.एस.एस., पोस्ट-मैट्रिक छात्रवृत्ति आदि कि सुविधाएं विद्यार्थियों को प्रदान की जा रही है। कालेज कैम्पस पूर्णतः वाई-फाई एवं इंटरनेट से जुड़ा हुआ है। विद्यार्थियों को कृषि क्षेत्र में अनुसंधान हेतु 72 एकड़ में कृषि प्रक्षेत्र का विकास किया गया है, जहां हाइटेक नर्सरी का निर्माण किया गया है। जिसकी लागत लगभग 1 करोड़ रूपये की है जो कि लगभग 15 एकड़ क्षेत्र में विस्तारित है। हाइटेक नर्सरी में विभिन्न प्रकार के फलों एवं सब्जियों तथा फूलों का पौधा तैयार करके कृषकों को वितरण किया जाता है ताकि कृषकगण इनका प्रयोग करके आर्थिक रूप से सशक्त बन सकें। ग्राम मर्रा जैसे सुदूर क्षेत्र में भी छत्तीसगढ़ शासन के सहयोग से तथा मुख्यमंत्री के मंशा अनुरूप आज टिशू कल्चर प्रयोगशाला का निर्माण लगभग 2.50 करोड़ की लागत से किया गया है, जहां केला, गन्ना, बॉस, गुलाब एवं अन्य पौधों का टिशू कल्चर के माध्यम से विकास कर किसानों का वितरित किया जाएगा। छत्तीसगढ़ मंडी बोर्ड के सहयोग से बीज भंडार गृह इम्प्लीमेंट शेड एवं कृषक प्रशिक्षण हेतु कृषक विश्राम गृह का निर्माण लगभग 2.37 करोड़ में किया गया है। 200 मेट्रिक टन क्षमता वाले 3 खाद खोदामों का भी निर्माण 32.93 लाख की लागत से किया गया है। उल्लेखनीय है कि 17 अगस्त 2019 को उक्त महाविद्यालय का भूमिपूजन कार्य संपन्न हुआ था। वर्ष 2019-20 में बी.एस.सी. (कृषि) चार वर्षीय पाठ्यक्रम में प्रवेशी 25 विद्यार्थियों के साथ महाविद्यालय का शुभारंभ हुआ था। वर्तमान में करीब 168 विद्यार्थी अध्ययनरत् है। 21 विद्यार्थियों का प्रथम बैच उपाधि उत्तीर्ण कर चुका है।

समारोह को सम्बोधित करते हुए मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल ने गुरुजनों को नमन किया। उन्होंने कहा कि मर्रा स्कूल बहुत पुरातन स्कूल है। यहां पर विनोबा भावे जी का आगमन हुआ था। क्षेत्र के लोग भूदान आंदोलन से जुड़े थे। आज हम डॉ. सर्वपल्ली राधाकृष्णन के जन्म दिवस को शिक्षक के रूप में मना रहे हैं। डॉ. राधाकृष्णन शिक्षक से राष्ट्रपति पद तक पहंुचे थे। उन्होंने कहा कि आज मैं भी इस मुकाम तक पहुंचा हूं उसमें मेरे गुरूजनों का योगदान रहा है। मुख्यमंत्री ने कहा कि सरकार द्वारा संचालित योजनाओं से ही आज छत्तीसगढ़ के किसाान संपन्न है। उन्हें ऋण लेने की आवश्यकता नहीं है। मर्रा में स्थापित कृषि महाविद्यालय के तकनीक से खेती-किसानी में सुधार होगा। आधुनिक खेती से उत्पादन में बढ़ोतरी होगी। प्रदेश में 10 हजार गौठान बनाये गए है। जिसमें आज 6 हजार गौठान स्वालम्बी हो गए है। प्राथमिक शिक्षा विस्तार के लिए 700 स्वामी आत्मानंद अंग्रेजी माध्यम स्कूल ख़ोले गए है। स्कूल जतन योजना के तहत स्कूलों का जीर्णाेद्धार किया गया है। 30 हजार टीचरों की भर्ती की गई है। मुख्यमंत्री ने कहा कि बेहतर वातावरण बनाना सरकार की मंशा है। छत्तीसगढ़ की संस्कृति, यहाँ के रहन सहन, खान-पान को पहचान दिला कर स्वाभिमान को बढ़ावा देने का काम सरकार कर रही है। पुरखो के बनाये परम्परा को आगे बढ़ाने का काम कर रही है। मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश की समुचित विकास के लिए स्वास्थ्य, शिक्षा, संस्कृति, रोजगार और अधोसंरचना विकास पर सरकार फोकस कर रही है। इस अवसर पर उन्होंने गुरूजनों का सम्मान भी किया।

कार्यक्रम को सम्बोधित करते हुए स्कूल शिक्षा मंत्री श्री रविन्द्र चौबे ने कहा कि यहां के किसानों के सहयोग से किसानों की सरकार बनी है। प्रदेश के मुखिया मुख्यमंत्री श्री बघेल के कार्यांे की प्रशंसा देश के महामहिम राष्ट्रपति जी ने विगत दिनों छत्तीसगढ़ प्रवास के दौरान कर चुकी है। किसानों के हितैषी सरकार इस वर्ष प्रति एकड़ 20 क्विटल धान खरीदने जा रही है। साथ ही 40 हजार करोड़ की राशि किसानों के थैली में डालने जा रही है। आज छत्तीसगढ़ में 30 हजार शिक्षक भर्ती हुई है। प्रदेश में 23 कृषि महाविद्यालय खोले जा चुके है। कृषि में क्रांतिकारी परिवर्तन लाना सरकार की सोच है।

कृषि मंत्री श्री ताम्रध्वज साहू ने अपने उद्बोधन में कहा कि सरकार का पूरा फोकस किसान और किसानी को बढ़ावा देना है। कृषि को उन्नत तकनीक से क्षेत्र के साथ प्रदेश के किसानों को लाभान्वित करने में यह महाविद्यालय सहायक होगी। आज छत्तीसगढ़ के सभी वर्गों की खुशहाली सरकार की योजनाओं के बेहतर क्रियान्वयन की देन है। कार्यक्रम को शिक्षा विद श्री सैयद फाजिल ने भी सम्बोधित किया।

गुरूजनों का सम्मान
शिक्षक दिवस के अवसर पर आयोजित इस भव्य समारोह में मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल ने क्षेत्र के सेवानिवृत्त गुरूजनों को शॉल एवं श्रीफल भेंट कर सम्मानित किया। जिसमें प्रधान पाठक श्री दीनदयाल ठाकुर शासकीय प्राथमिक शाला जामगांव एम, प्रधान पाठक श्री चुरामन लाल ठाकुर शासकीय प्राथमिक शाला बेल्हारी, उच्च वर्ग शिक्षक श्री सुमन सिंह शासकीय पूर्व माध्यमिक शाला उरला, प्रधानपाठक श्री अशोक कुमार साहू शासकीय प्राथमिक शाला स्टोरपारा पुरैना, सहायक शिक्षक एल.बी. श्री राकेश कुमार महोबिया शासकीय प्राथमिक शाला महुदा, सहायक शिक्षिका श्रीमती रेखा खोब्रागढ़े शासकीय प्राथमिक शाला पतोरा, प्रधान पाठक श्री किशोर कुमार साहू शासकीय प्राथमिक शाला धमना, व्याख्यता श्री ठाकुर राम साहू शासकीय उच्चतर माध्यमिक विद्यालय भरर, प्रधान पाठक श्रीमती जया ठाकुर शासकीय प्राथमिक शाला बजरंग पारा अमलेश्वर, उच्च वर्ग शिक्षिका श्रीमती उषा ताम्रकार शासकीय पूर्व माध्यमिक शाला खोरपा, प्रधान पाठक श्री राजकुमार कौशल शासकीय प्राथमिक शाला परसाही, प्रधान पाठक श्री डोमार सिंह ठाकुर शासकीय प्राथमिक शाला कुगदा, प्रधान पाठक श्रीमती दुलेश्वरी देशलहरा शासकीय पूर्व माध्यमिक शाला इ.न. पाटन, उच्च वर्ग शिक्षक श्री शिशुपाल वर्मा शासकीय पूर्व माध्यमिक शाला अरसनारा, व्याख्याता श्रीमती नीता श्रीवास्तव शासकीय उच्चतर माध्यमिक विद्यालय कुम्हारी, प्रधान पाठक श्रीमती एम. रामटेके शासकीय पूर्व माध्यमिक शाला कुम्हारी, प्राचार्य श्रीमती के.राजश्री राव शासकीय हाई स्कूल बटंग, उच्च वर्ग शिक्षिका श्रीमती सरोज खापर्डे शासकीय पूर्व माध्यमिक शाला सिरसाकला, व्याख्याता श्री मूलचंद साहू शासकीय उच्चतर माध्यमिक विद्यालय पुरैना, प्राचार्य श्रीमती सविता बनर्जी शासकीय उच्चतर माध्यमिक विद्यालय पतोरा, प्राचार्य श्री समिरन कुमार दास शासकीय उच्चतर माध्यमिक विद्यालय गनियारी, प्रधान पाठक श्री ताला राम साहू शासकीय प्राथमिक शाला कुर्मीगुण्डरा, प्रधान पाठक श्री दुर्गेश कुमार राठौर शासकीय प्राथमिक शाला खुड़मुड़ा, उच्च वर्ग शिक्षक श्री सुरेन्द्र कुमार शर्मा शासकीय पूर्व माध्यमिक शाला कुम्हारी, प्रधान पाठक श्री मुकुन्दराम गायकवाड़ शासकीय प्राथमिक शाला झीट, प्रधान पाठक श्री वेदराम ठाकुर शासकीय प्राथमिक शाला मोरिद, व्याख्याता श्री रोमन सिंह साहू शासकीय उच्चतर माध्यमिक विद्यालय जामगांव आर, प्राचार्य श्री एम.पी. शुक्ला शासकीय उच्चतर माध्यमिक विद्यालय सेजस सेलूद, व्याख्याता श्रीमती सरोज बाला मढ़रिया शासकीय कन्या उच्चतर माध्यमिक विद्यालय भिलाई-3, व्याख्यता श्री इन्द्रेश कुमार देवांगन शासकीय हाई स्कूल सुरपा, व्याख्याता श्री पोषण कुमार देवांगन शासकीय हाई स्कूल परसदा एवं व्याख्याता श्री गोविन्द राम कुर्रे शासकीय उच्चतर माध्यमिक उरला शामिल है। इसके अलावा क्षेत्र के विभिन्न विद्यालयों के लगभग एक हजार 500 शिक्षक भी सम्मानित किये गये।

मौके पर जिला शिक्षा अधिकारी ,ब्लॉक शिक्षा अधिकारी, जिला सहकारी केंद्रीय बैंक के अध्यक्ष राजेंद्र साहू, कृषि उपज मंडी के अध्यक्ष अश्वनी साहू, साख समिति के अध्यक्ष जवाहर वर्मा ,अपेक्स बैंक के डायरेक्टर राकेश ठाकुर, जिला पंचायत सभापति मोनू साहू, शाला विकास समिति के अध्यक्ष कौशल चंद्राकर, बीज निगम बोर्ड के सदस्य शंकर बघेल ,मछुआ कल्याण बोर्ड के सदस्य देव कुमार निषाद, ब्लॉक कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष महेंद्र वर्मा, राजेश ठाकुर, प्रमोद राजपूत, नगर पालिका अध्यक्ष कुम्हारी राजेश्वर सोनकर ,जनपद पंचायत पाटन के उपाध्यक्ष देवेंद्र चंद्रवंशी ,जनपद पंचायत पाटन के सभापति रमन टिकरिहा, दिनेश साहू, रूपचंद साहू, खिलेश यादव,कांग्रेसी नेता भूपेंद्र बघेल सहित सैकड़ो कार्यकर्ता एवं अन्य जनप्रतिनिधि की गरिमामई  उपस्थित रहे।

देवांगन महापुराण कथा यज्ञ का आयोजन 4 जून से 10 जून तक रानीतराई में

रानीतराई 25 मई :  पाटन ब्लॉक अंतर्गत आने वाले ग्राम पंचायत रानीतराई में ग्राम इकाई देवांगन समाज के तत्वाधान में सात दिवसीय मां परमेश्वरी...

लोधी समाज मे अभाव से प्रतिभा नही रुकेगी – घनश्याम वर्मा

पाटन  24 मई :  छ. ग. लोधी समाज के अंतिम व्यक्ति जो अभाव,असुरक्षा और अव्यवस्था का शिकार हुए हैं उनके लिए छ. ग. लोधी...
KARAN SAHU (पाटन के गोठ)
KARAN SAHU (पाटन के गोठ)
करन साहू रिपोर्टर - पाटन "के गोठ (PKG NEWS) Powerd By "Chhattisgarh 24 News" Group Of multimedia Pvt. Ltd.
पाटन क्षेत्र की खबरे

ताज़ा खबरे

error: पाटन के गोठ (PKG NEWS) के न्यूज़ को कॉपी करना अपराध है