विकासखण्ड शिक्षा अधिकारी हुए शामिल – समर्पण भाव से कार्य करने शिक्षकों को किया प्रेरित

” निष्ठा 3.0 एफएलएन पर आधारित प्राथमिक शिक्षको का तीन दिवसीय प्रशिक्षण अमलेश्वर में सम्पन्न ” – विकासखण्ड शिक्षा अधिकारी हुए शामिल – समर्पण भाव से कार्य करने शिक्षकों को किया प्रेरित

अम्लेश्वर: निष्ठा 3.0 एफएलएन पर आधारित सात संकुलों के कक्षा पहिली , दूसरी , तीसरी पढ़ाने वाले शिक्षकों का प्रथम चरण का जोन स्तरीय प्रशिक्षण संकुल स्त्रोत केंद्र अमलेश्वर में विकासखण्ड शिक्षा अधिकारी श्री टी.आर.जगदल्ले सहित मास्टर ट्रेनर्स श्री ललित कुमार बिजौरा , श्री सुशील सूर्यवंशी , श्री महेंद्र कुमार बहादुर , श्री संतोष शर्मा , श्री मनोज कुमार ठाकुर , श्रीमती लालिमा चंद्राकर , श्री मुकेश साहू , प्रधानपाठक श्री शंकर लाल साहू की उपस्थिति में सम्पन्न हुआ । प्रशिक्षण के समापन सत्र में विकासखण्ड शिक्षा अधिकारी श्री टी.आर.जगदल्ले ने कहा कि कक्षा पहिली से तीसरी तक के बच्चों में बुनियादी साक्षरता एवम संख्या ज्ञान हासिल करने लिए प्रत्येक शिक्षक में समर्पण का भाव होना आवश्यक है यदि समर्पण भाव से कार्य करेंगे तो एफएलएन के लक्ष्यों को आसानी से प्राप्त कर सकते हैं । उन्होंने प्रत्येक शिक्षक से आग्रह किया कि पालक एवम समुदाय को विद्यालय से जोड़ते हुए नवाचारी गतिविधियों के माध्यम से शिक्षण कार्य को प्रभावी बनाये ताकि सभी बच्चे बुनियादी साक्षरता एवम संख्या ज्ञान में निपुण हो सके । मास्टर ट्रेनर्स द्वारा निष्ठा 3.0 एफएलएन पर आधारित सभी 12 कोर्स के बारे में जो जानकारी दी गई है उसे अपने अपने विद्यालय में शत प्रतिशत क्रियान्वयन पर जोर दिया । मास्टर ट्रेनर श्री ललित कुमार बिजौरा ने बताया कि प्रशिक्षण के दौरान शिक्षकों को निष्ठा 3.0 के सभी 12 कोर्स जिसके अंतर्गत बुनियादी साक्षरता और संख्या ज्ञान मिशन का परिचय , दक्षता आधारित शिक्षा की ओर बढ़ना , बच्चे के सीखने की प्रक्रिया को समझना — बच्चे कैसे सीखते हैं , बुनियादी साक्षरता और संख्या ज्ञान में समुदाय एवम अभिभावकों की सहभागिता , विद्या प्रवेश एवम बालवाड़ी की समझ , बुनियादी भाषा और साक्षरता , प्राथमिक कक्षाओं में बहुभाषी शिक्षण , बुनियादी संख्यात्मकता , सीखने का आकलन , बुनियादी साक्षरता एवम संख्या ज्ञान हेतु विद्यालय नेतृत्व , शिक्षण अधिगम और मूल्यांकन में सूचना और प्रौद्योगिकी का एकीकरण , बुनियादी स्तर के लिए खिलौना आधारित शिक्षण , नवा जतन , सुघ्घर पढ़वईया , पुस्तकालय एवम वर्कबुक का उपयोग , आगामी रणनीति पर चर्चा , नेतृत्व क्षमता विकास के बारे में विस्तार से बताया गया एवम प्रत्येक कोर्स का असाइनमेंट भी तैयार करने बताया गया ।निपुण भारत मिशन के तहत बुनियादी शिक्षा और संख्यात्मक ज्ञान के लिए एक सुलभ वातावरण प्रदान कर कक्षा 3 के अंत तक 2027 तक पढ़ने लिखने और अंकगणित में वांछित सीखने की क्षमता हासिल करना प्रमुख उद्देश्य है और इसी उद्देश्य की प्रतिपूर्ति के लिए प्राथमिक विद्यालय के शिक्षकों को प्रशिक्षण दिया जा रहा है । प्रशिक्षण में मास्टर ट्रेनर्स के रूप में श्री ललित कुमार बिजौरा , श्री सुशील सूर्यवंशी , श्री महेंद्र कुमार बहादुर , श्री संतोष शर्मा , श्री मनोज कुमार ठाकुर , श्रीमती लालिमा चंद्राकर सहित मुकेश कुमार साहू , श्री बद्री प्रसाद चंद्राकर , श्री घनश्याम सिंह नेताम का विशेष सहयोग रहा । जोन स्तरीय प्रशिक्षण में संकुल स्त्रोत केंद्र परसदा , अमलेश्वर , पाहन्दा , जमराव , सांकरा , झीट , जामगांव (एम) से श्रीमती पुष्पांजलि ठाकुर , श्री बुधारू राम सिन्हा , श्री प्रदीप कुमार सिन्हा , श्रीमती अंजू जैन , वेदप्रकाश साहू , संजय वर्मा , राकेश जोशी , तिलेश लोखंडे , श्रीमती मेघा गुप्ता , श्रीमती लीना बघेल , श्रीमती मेरी सुषमा खलखो , श्रीमती शीला शर्मा , श्रीमती शालिनी देवांगन , श्री केशु राम साहू , श्रीमती श्रद्धा शर्मा , श्रीमती मोहिनी ताम्रकार , कौशल कुमार शुक्ला , श्री के.के.सोनकर , श्रीमती स्वाति सेन , मोनिका देवांगन सहित 44 शिक्षक उपस्थित रहे ।

 

कुम्हारी पालिका अध्यक्ष ने किया पीआईसी भंग, जल्द गठन के आसार नए पार्षदों को मिल सकता है मौका

करन साहू कुम्हारी 15 जून : नगर पालिका परिषद कुम्हारी के अध्यक्ष राजेश्वर सोनकर ने अपनी पीआईसी (प्रेसीडेंट इन काउंसिल) भंग कर दी है...

केज कल्चर के अतिरिक्त सभी प्रकार का मत्स्याखेट 16 जून से 15 अगस्त तक पूर्णतः निषिद्ध

दुर्ग 15 जून 2024/ वर्षा ऋतु में मछलियों की वंश वृद्धि (प्रजनन) को दृष्टिगत रखते हुये उन्हें संरक्षण देने हेतु राज्य में छत्तीसगढ़ नदीय...
KARAN SAHU (पाटन के गोठ)
KARAN SAHU (पाटन के गोठ)
करन साहू रिपोर्टर - पाटन "के गोठ (PKG NEWS) Powerd By "Chhattisgarh 24 News" Group Of multimedia Pvt. Ltd.
पाटन क्षेत्र की खबरे

ताज़ा खबरे

error: पाटन के गोठ (PKG NEWS) के न्यूज़ को कॉपी करना अपराध है